Punjabi English Monday, October 25, 2021
BREAKING NEWS
विदेशी कंपनियों द्वारा निवेश करने के लिए पंजाब बना पसन्दीदा गंतव्यमुख्यमंत्री द्वारा दुनिया के नामी उद्योगपतियों को राज्य की तरक्की और खुशहाली में भागीदार बनने का न्योताकेंद्रीय समिति में माकपा ने किया कांग्रेस से गठबंधन पर विचारहवाई अड्डों पर एन.आर.आईज़ को होती मुश्किलों के मौके पर ही फ़ोन पर हल के लिए कॉल सेंटर स्थापित किया जायेगा - परगट सिंहमुख्यमंत्री के दिशा-निर्देशों पर 2 किलोवाट से कम लोड वाले 96911 घरेलू उपभोक्ताओं के 77.37 करोड़ रुपए के बिजली बिलों के बकाए माफपंजाब सरकार ने लखीमपुर खीरी में घटी दर्दनाक घटना में जान गंवाने वाले किसानों और पत्रकार के पारिवारिक सदस्यों को बाँटे 2.50 करोड़ के चैक

शिक्षा/प्रौद्योगिकी

मिशनरी शिक्षा के कालेजों के हितों की पूरी रक्षा की जायेगी - प्रगट सिंह

October 13, 2021 06:44 PM
 
उच्च शिक्षा मंत्री ने प्राईवेट एडिड कालेजों की मैनेजमेंट को वाजिब प्रशासकीय और वित्तीय माँगों के हल का विश्वास दिलाया
 
चंडीगढ़, 13 अक्टूबर
 
मिशनरी शिक्षा के मकसद के साथ शुरू हुए कालेजों का राज्य में उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने में बहुत योगदान है। इस क्षेत्र में लम्बे समय से सेवाएं दे रहे प्राईवेट एडिड कालेजों के हितों की पूरी रक्षा की जायेगी। यह बात उच्च शिक्षा और भाषाओं संबंधी मंत्री स. प्रगट सिंह ने आज यहाँ पंजाब भवन में ग़ैर-सरकारी एडिड कालेजों की मैनेजमैंटों की फेडरेशन के साथ मीटिंग के दौरान कही।
 
स. परगट सिंह ने कहा कि शिक्षा क्षेत्र में सरकारी संस्थाओं के साथ-साथ लम्बे समय से चल रही कई शैक्षिक संस्थाओं का बहुत बड़ा योगदान है जहाँ से राज्य के नौजवानों ने उच्च शिक्षा हासिल करके बड़ी उपलब्धियां हासिक की हैं। इनमें से कई संस्थाएं तो एक सदी से भी पुरानी हैं। राज्य सरकार इन संस्थाओं के हितों की रक्षा करने के लिए वचनबद्ध है। फेडरेशन की तरफ से गई मीटिंग में रखी ज्यादातर माँगें प्रशासकीय और वित्तीय मामलों से सम्बन्धित थी जिन पर उच्च शिक्षा मंत्री ने विश्वास दिलाया कि सब वाजिब माँगों को हल करने के लिए इस पर सकारात्मक रवैया अपनाते हुए इसका हल निकाला जायेगा। 
 
स. परगट सिंह ने आगे कहा कि उच्च शिक्षा विभाग को चलाने और इसका नेतृत्व करने के लिए शिक्षा क्षेत्र के साथ ही जुड़े अकादमिक माहिरों और शिक्षा शास्त्रीयों की कमेटी बनाई जायेगी जिसमें इस क्षेत्र से जुड़े हर वर्ग के प्रतिनिधियों को शामिल किया जायेगा। इसी तरह कालेजों में दाखि़लों, सिलेबस और परीक्षाओं के यूनिवर्सिटियों के अलग-अलग शड्यूल को एकसमान करने की माँग पर उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि इस सम्बन्धी सभी यूनिवर्सिटियों के उप कुलपतियों के साथ मीटिंग करके साझा हल निकालने के लिए विचार किया जायेगा। मंत्री के इस फ़ैसले की मौके पर ही फेडरेशन के नेताओं ने प्रशंसा की।
 
मीटिंग में फेडरेशन के प्रधान रजिन्दरमोहन सिंह छीना, मीत प्रधान रमेश कुमार कौड़ा, सचिव अगनीश ढिल्लों, सलाहकार रवीन्द्र जोशी, वित्त सचिव राकेश धीर, खालसा कालेज अमृतसर के प्रिंसिपल डा. मुहिल सिंह और लायलपुर खालसा कालेज जालंधर के प्रिंसिपल डा.गुरपिन्दर सिंह समरा उपस्थित थे।

Have something to say? Post your comment

शिक्षा/प्रौद्योगिकी

डॉ. राज कुमार वेरका द्वारा पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप घोटाले के दोषियों के विरुद्ध केस दर्ज करने के निर्देश

सी.बी.एस.ई. द्वारा पंजाबी विषय को मुख्य विषयों में से बाहर निकालना दुर्भाग्यपूर्ण: परगट सिंह

शिक्षा विभाग ने 6635 ई.टी.टी. अध्यापकों के पदों के लिए भर्ती परीक्षा ली

डीयू की 70 हजार में से करीब 40 हजार सीटों पर स्वीकृत हुए दाखिले

परगट सिंह द्वारा स्कूल शिक्षा विभाग के कर्मचारियों और भर्ती प्रक्रिया वाले उम्मीदवारों की शिकायतों और माँगों के हर संभव हल के निर्देश

जैक का प्रतिनिधिमंडल ने उच्च शिक्षा मंत्री और मुख्य सचिव, पंजाब से मुलाकात की

इंडियन नर्सिंग काउंसिल ने आर्यन्स इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग को बी.एससी. नर्सिंग कोर्स शुरू करने की मंजूरी दी

फार्मेसी काउंसिल ऑफ इंडिया, नई दिल्ली ने आर्यन्स को बी. फार्मेसी की 100 और सीटों की अनुमति दी

विद्यार्थियों की पढ़ाई में सुधार लाने के लिए अभिभावक-अध्यापक मीटिंग 29 और 30 सितम्बर को

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा एकल अभिभावकों के बच्चों का स्कूलों में दाखि़ला यकीनी बनाने के निर्देश